उत्तराखंड में बस खाई में गिरी, मुजफ्फरनगर के युवक समेंत 14 मरे-देंखे तस्वीरें

देहरादून। उत्तराखंड के टिहरी में गुरूवार सुबह उत्तराखंड सड़क राज्य परिवहन निगम की एक बस के गहरी खाई में गिरने से 14 लोगों की मौत हो गई है और 17 अन्य घायल हैं। गंभीर छह घायलों को हेलीकाप्टर से ऋषिकेश एम्स ले जाया गया हैं। मृतक में एक युवक मुजफ्फरनगर के गांव मुझेडा का रहने वाला बताया जा रहा है।


हादसा टिहरी जनपद के चंबा-धरासू मार्ग पर किरगनी गांव के पास हुआ। टिहरी के जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी ब्रजेश भट्ट के अनुसार राज्य परिवहन निगम की एक बस उत्तरकाशी से ऋषिकेश जा रही थी। बस जैसे ही चंबा-धरासू मार्ग पर किरगनी के पास पहुंची तो चालक के नियंत्रण खो देने की वजह से बस अनियंत्रित होकर 250 मीटर गहरी खाई में जा गिरी।

जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी ने बताया कि बस में 31 लोग सवार थे। बस के खाई में गिरते ही 14 लोगों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई और 18 अन्य घायल हो गए। इनमें सात की हालत गंभीर है जिनमें से चार लोगों को हेलीकाप्टर से एम्स ऋषिकेश ले जाया गया है और अन्य तीन को लाए जाने की तैयारी की जा रही थी। मृतकों में मुजफ्फरनगर जिले के मुझेडा गांव का युवक विनोद भी बताया गया है।

भट्ट के अनुसार मौके पर राहत व बचाव कार्य पूरा कर लिया गया है। एक शव की खोज की जा रही है। शवों का पंचनामा भर दिया गया है और इसके बाद पोस्टमार्टम की कार्रवाई की जाएगी। सूत्रों के अनुसार दुर्घटना की सूचना मिलते ही सबसे पहले आसपास के ग्रामीण दुर्घटनास्थल पर पहुंचे और राहत व बचाव कार्य में जुट गए।

पुलिस व प्रशासन के साथ ही आपदा प्रबंधन की टीम भी मौके पर पहुंच गयी। जिलाधिकारी सोनिका और एसएसपी विमला गुंज्याल ने मौके पर जाकर राहत व बचाव का जिम्मा संभाला। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने घायलों के लिए हेलीकाप्टर की तुरंत व्यवस्था के आदेश दे दिए और जिलाधिकारी को दुर्घटना में घायल लोगों को हर संभव मदद देने का आदेश दिया।

इसके अलावा चंबा में हेलीकाप्टर भेजने के आदेश दिए गए हैं। मुख्यमंत्री ने दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए घायलों को हरसंभव मदद करने का भरोसा दिलाया। सरकार की ओर से मृतकों के परिजनों को दो दो लाख एवं घायलों को पचास पचास हजार रूपए मुआवजा देने की घोषणा भी की गयी है।

loading…