दरिंदों ने पहले बेटी की इज्जत लूटी, फिर मां के साथ किया गैंगरेप

Bhadohi,Bhadohi news,latest news of Bhadohi,gangrape,rape,balatkar

सहारनपुर। दुष्कर्म पीड़ित बेटी के लिए इंसाफ की लड़ाई लड़ रही महिला को शिकायत वापस न लेने पर चार लोगों ने उसके साथ गैंगरेप किया। पीड़ित महिला शिकायत लेकर पुलिस के पास गई तो वहां सुनवाई नहीं हुई। जिसके चलते उसने न्यायालय की शरण ली। अदालत के आदेश पर पुलिस ने कार्रवाई शुरू की। मामला यूपी के सहारनपुर जिले का है।
क्षेत्र के एक गांव निवासी महिला ने एसीजेएम के यहां वाद दायर कर बताया था कि करीब 16 वर्ष पूर्व उसकी शादी मुजफ्फरनगर के बसधाड़ा गांव निवासी एक व्यक्ति के साथ हुई थी। शादी के बाद उसे एक बेटी पैदा हुई। घर गृहस्थी ठीकठाक चल रही थी कि अचानक पति की तबीयत खराब हुई और कुछ दिन बाद उनकी मौत हो गई। जिसके बाद वह मेहनत मजदूरी करके बेटी का पालन पोषण करनी लगी। महिला के मुताबिक, कुछ वर्ष पूर्व उसने अंबहेटा शेखां निवासी एक व्यक्ति से शादी कर ली। इस दौरान उसके बसधाड़ा निवासी रिश्तेदार ने नाबालिग बेटी की जिम्मेदारी उठाने की बात कहते हुए उसे कुटेसरा में स्थित अपनी बेटी के यहां भेज दिया। आरोप है कि कुछ दिनों बाद उसे पता लगा कि बेटी को रखने वाले रिश्तेदार के घर के ही एक युवक ने बेटी को गर्भवती कर दिया और बाद में मुजफ्फरनगर ले जाकर उसका गर्भपात करा दिया। जिसके चलते बेटी बीमार रहने लगी और 1 नवंबर 2018 को इसी के चलते उसकी मौत हो गई। महिला का आरोप है कि जब उसने आरोपियों के विरुद्ध कार्रवाई के लिए पुलिस को तहरीर दी तो कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसकी जानकारी रिश्तेदार को हुई तो वह उस पर कार्रवाई न करने का दबाव बनाने लगा। जब उसने ऐसा करने से इंकार कर दिया तो वह उससे रंजिश रखने लगा।
आरोप है कि नवंबर माह में वह देवबंद से अंबहेटा जा रही थी कि रास्ते में मिले उक्त लोग उसे बहाने से अपने साथ ले गए और उसके साथ सामूहिक दुराचार किया और बदहवासी की हालत में उसे नहर के किनारे छोड़कर फरार हो गए। जब वह पुलिस के पास पहुंची तो पुलिस ने इस मामले में भी कोई कार्रवाई नहीं की। जिसके बाद उसे अदालत की शरण में जाना पड़ा। इस मामले में अदालत ने पुलिस को रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश दिए हैं। पुलिस का कहना है रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच शुरू की जाएगी।

Loading…