योगी का आदेशः सरकारी कार्यालयों में बैन होगी ये चीज, कर्मचारियों में हडकंप

yogi adityanath,yogi adityanath photos,yogi adityanath latest news,yogi adityanath caste
yogi adityanath,yogi adityanath photos,yogi adityanath latest news,yogi adityanath caste

लखनऊ। योगी सरकार 2 अक्तूबर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य में प्रदेश के सभी सरकारी कार्यालयों में तंबाकू, गुटका और पान और पान मसाला खाने पर प्रतिबंध लगाएगी. यहीं नहीं, इसी दिन से प्रदेश में प्लास्टिक, पालीथिन और थर्मोकोल की वस्तुओं पर भी पूरी तरह से प्रतिबंध लागू होगा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महात्मा गांधी की जयंती के भव्य आयोजन के लिए राज्य स्तरीय कार्यकारी समिति की बैठक करके सख्ती से प्रतिबंध लगाने के आदेश दिए थे. इस पर अमल की तैयारी शुरू हो गई है. खास बात यह है कि सचिवालय के भवनों में यह प्रतिबंध पहले से ही लागू है. लेकिन सचिवालय को छोड़कर अन्य सरकारी दफ्तरों में इनके खाने पर कोई प्रतिबंध नहीं है।

MUZAFFARNAGAR NEWS ऐप पर बेहतर खबरें पाने के लिये अपने ऐप को यहां क्लिक करके अपडेट जरुर कर लें

इसी कड़ी में प्रदेश में दो अक्तूबर से अतिथियों को पुष्प के साथ खादी की उपयोगी वस्तुएं, जैसे रुमाल, थैला, गमछा भेंट किया जाएगा. इससे स्वदेशी को प्रोत्साहन मिलेगा और स्वच्छता भी बढ़ेगी. प्रत्येक जिले में स्वच्छता अभियान भी चलाया जाएगा. वहीं मलिन बस्तियों में विशेष स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा. योगी सरकार बापू की जयंती पर दो वर्षीय कार्यक्रमों के तहत उनके चार प्रमुख अभियानों स्वच्छता, छूआछूत व अस्पृश्यता उन्मूलन, खादी का प्रयोग और ग्रामीण स्वावलंबन तथा सत्य व अहिंसा को जन-जन तक पहुंचाने के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। बता दें कि सचिवालय के भवनों में तंबाकू, गुटका, पान और पान मसाला खाते हुए किसी अधिकारी, कर्मचारी और बाहरी व्यक्ति के पकड़े जाने पर सुरक्षा कर्मियों को जुर्माना वसूलने का अधिकार है. पहले यह जुर्माना केवल सौ रुपये मात्र था, लेकिन गंदगी न रुकने पर करीब तीन साल पहले जुर्माना बढ़ाकर पांच सौ रुपये प्रति व्यक्ति कर दिया गया. साथ ही बाहरी व्यक्ति से पांच रुपये वसूलने के साथ उसका सचिवालय प्रवेश पत्र भी रद्द कर दिया जाता है।

loading…