शामली में मां के आशिक ने ले ली 7 साल के बच्चे की जान, पहले फांसी देकर की हत्या, फिर काट डाली हाथों की नसें

शामली। शामली में दो दिन पूर्व हुई 7 वर्ष के बच्चे की बेरहमी के साथ हत्या के मामले का पुलिस ने आज खुलासा कर दिया। मां के अवैध संबंधों का नतीजा 7 साल के बेटे को अपनी जान देकर चुकाना पडा। पुलिस ने इस मामले में मृतक समीर की मां के प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक फिरोज पुत्र हनीफ निवासी कस्बा झिंझाना हाल में पुलिस ऑफिस के पास नाला पटरी मौ० रेलपार में बाबूराम कश्यप के मकान में किराये पर रहता है।
10 जुलाई को वह रोजाना की भांति चिनाई का कार्य करने मजदूरी पर गया था और उसकी पत्नी दवा लेने डाक्टर के पास गई थी। इस दौरान उनका 7 साल का बेटा समीर गायब हो गया था। 11 जुलाई को समीर की लाश हरेन्द्र के गन्ने के खेत से बरामद हुई। उसकी बेरहमी के साथ हत्या की गई थी। पुलिस ने इस मामले की गहराई के साथ छानबीन की तो हत्या के पीछे जो सच सामने आया उसने सबको हिलाकर रख दिया। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिस मकान में फिरोज किराए पर रहता है उसी में गांव बधैव निवासी अजय पुत्र बाबूराम भी किराएदार है।
अजय के अवैध संबंध फिरोज की पत्नी के साथ हो गए थे। घटना से कुछ दिन पहले समीर ने अजय को अपनी मां के साथ आपत्तिजनक हालत में देख लिया और यह बात अपने पिता को बताने की बात कही। उस समय तो समीर की मां ने उसे बहका लिया लेकिन अजय के दिल में अवैध संबंधों का खुलासा होने का डर बैठ गया। अजय मौका देखकर समीर को आम खिलाने के बहाने अपने साथ ले गया। उसके बाद उसने समीर की गले में फंदा लगाकर हत्या कर दी और उसके हाथ की नसें भी काट डाली।

loading…