शामली: अलाउद्दीनपुर में घुसी भारी फोर्स तो घर छोडकर भागे पुलिसवालों को दौडा-दौडाकर पीटने वाले, उसके बाद…

शामली। शामली जनपद के झिंझाना थाना क्षेत्र के गांव अलाउद्दीनपुर में लूटपाट के आरोपी को पकडने आई सहारनपुर जनपद के तीतरो थाने की पुलिस टीम को दौडा-दौडाकर पीटने वाले हमलावरां की धरपकड के लिए आज भारी फोर्स गांव में पहुंची। इस दौरान गांव में हडकम्प की स्थिति बनी रही। गांव के अधिकतर लोग गायब दिखे और इस दौरान सिर्फ महिलाएं ही नजर आईं।


अपर पुलिस अधीक्षक शामली ने आज भारी फोर्स के साथ थाना झिंझाना के ग्राम अलाउद्दीनपुर में जाकर अपराधियों का सत्यापन किया। चार दिन पूर्व सहारनपुर के थाना तीतरों के एसओ अरुण कुमार क्षेत्र के गांव अलाउद्दीन पुर में लूट के आरोपित रंधावा को पकड़ने आए थे। पुलिस ने आरोपित को पकड़ लिया था लेकिन गांव की सैकड़ों महिला और पुरुषों ने पुलिस टीम पर पथराव कर एसओ अरुण कुमार को गंभीर रूप से घायल कर दिया था। इस दौरान भीड़ आरोपित को छुड़ाकर ले गई थी। मामले में एसओ की तरफ से एक नामजद व 200 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा कायम कराया गया था। इसके चलते शनिवार को एएसपी श्लोक कुमार के नेतृत्व में इंस्पेक्टर ¨झझाना एमएस गिल मयफोर्स के पहुंचे। पुलिस ने अपने साथ एक प्लाटून पीएसी भी ली थी। सैकड़ों पुलिस व पीएससी बल गांव में पहुंचे और फ्लैग मार्च किया। इससे गांव में हड़कंप मच गया। 1पुलिस टीम के साथ तीन मॉनिटरों ने गांव के 15 अपराधियों के डोजियर भरे। गांव में फ्लैग मार्च करने के बाद पुलिस व पीएसी वापस लौट गई।


उल्लेखनीय है कि लूटपाट के आरोपी को दबोचने आई तीतरो थाना पुलिस पर हमला करने के मामले में झिंझाना थाने पर 200 अज्ञात आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है, जिसमें पुलिस पर हमला करने, सरकारी कार्य में बाधा डालने, लूटपाट करने सहित गंभीर धारा लगाई गई है। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस ने आरोपियों की पहचान करना प्रारंभ कर दिया है, जिसके बाद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश अभियान चलेगा।


बृहस्पतिवार रात जनपद सहारनपुर के थाना तीतरो के थानाध्यक्ष अरुण पंवार पुलिस टीम में दरोगा प्रमोद, हेड कांस्टेबल रामपाल और कांस्टेबल मनोज को साथ लेकर झिंझाना थाना क्षेत्र के गांव अलाउद्दीनपुर में दबिश देने पहुंचे थे। पुलिस ने लूटपाट के मामले में आरोपी बदमाश रणधावा को पकड़ भी लिया था, लेकिन जैसे ही पुलिस उसको अपने साथ ले जाने लगी, तो ग्रामीणों की भीड़ ने पुलिस को घेरकर हमला बोल दिया था। पथराव किया था और धारदार हथियारों से हमला किया गया था, जिसमें थानाध्यक्ष सहित उनके साथी पुलिस कर्मी घायल हो गए थे। इसके साथ ही पुलिस कस्टडी से आरोपी को छुड़ा लिया गया था। इस पर पुलिसकर्मियों ने मौके से भागकर अपनी जान बचाई थी। वहीं, बाद में झिंझाना थाना पुलिस ने गांव में दबिश दी, तो आरोपी अपने घरों से फरार हो गए थे। इसके बाद घायल पुलिसकर्मियों को अस्पताल भेजकर उपचार कराया गया था। झिंझाना थानाध्यक्ष एमएस गिल ने बताया कि तीतरो थाना प्रभारी अरुण पंवार की तहरीर पर गांव अलाउदीनपुर के करीब 200 अज्ञात लोगों के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालने, पुलिस पर जानलेवा हमला करने, मोबाइल फोन लूटने सहित संगीन धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। उन्होंने बताया कि हमलावरों की पहचान की जा रही है। पहचान होने पर जल्दी ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा।

loading…