शामली में लापरवाही बरतने वाले कर्मचारियों का वेतन रोकने के निर्देश मवा हडकंप

शामली। उच्च शिक्षा विभाग के विशेष सचिव तथा जनपद के नोडल अधिकारी नरेन्द्र शंकर पांडे ने विद्युत अधीक्षक अभियंता कार्यालय का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होने लापरवाही बरतने वाले कर्मचारियों का वेतनमान रोके जाने के निर्देश दिये है। नोडल अधिकारी के निरीक्षण से विद्युत अधिकारियों में हडकंप मचा रहा।


सोमवार को उच्च शिक्षा विभाग के विशेष सचिव व जनपद के नोडल अधिकारी नरेन्द्र शंकर पांडे शहर के कैराना रोड स्थित विद्युत अधीक्षण कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होने सबसे पहले उपस्थिति पंजीका में सभी अधिकारियों तथा कर्मचारियों की उपस्थिति दर्ज कराई। जिसमें उन्होने अनुपस्थित रहने वाले या देरी से आने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों से कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। उसके बाद उन्होने कम्प्यूटर कक्ष का निरीक्षण करते हुए कम्प्यूटर ऑप्रेटरों को उचित दिशा निर्देश दिये। नोडल अधिकारी ने अन्य कार्यालयों का निरीक्षण करते हुए तैनात बाबू संजीव कुमार से फाईलों को दिखाने के निर्देश दिये, जिसमें बाबू द्वारा जीपीएफ का रजिस्टर दिखाया गया तो उसमें मार्च 2018 के बाद की कोई एंट्री नही मिली।

जिसमें उन्होने नाराजगी व्यक्त करते हुए बाबू को कडी फटाकार लगाई और रजिस्टरों को 31 जनवरी तक पूर्ण न कर लिये जाने तक वेतनमान रोके जाने के निर्देश दिये है। उन्होने फाईलों पर लगी धूल को देखते हुए फटकार लगाई और साफ सफाई करने के निर्देश दिये। उन्होने चेतावनी दी कि यदि फाईलों को पूरा नही किया जाता तो वह संबंधित विभाग के एक्सन के खिलाफ भी कार्यवाही करेगे। नोडल अधिकारी की कार्यवाही से विद्युत विभाग के अधिकारियों में हडकंप मचा रहा। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी विवेक त्रिपाठी, अधीक्षण अभियंता सुनील कपूर, एसडीएम सदर प्रशांत भारती, एक्सन एके वर्मा आदि मौजूद रहे।

Loading…