शामली में आपस में भिडे भाकियू कार्यकर्ता, जमकर हंगामा

शामली। भारतीय किसान यूनियन के नवनियुक्त कार्यवाहक शामली जिलाध्यक्ष राजू अहलावत द्वारा आयोजित की गई बैठक में भाकियू कार्यकर्ता आपस में उलझ पडे। प्रदेश सचिव जावेद तोमर पर भाकियू के आन्दोलनों में हिस्सा न लिया जाने का आरोप लगाते हुए राजेन्द्र कुडाना ने हंगामा खडा कर दिया। कार्यकर्ताओं द्वारा हंगामा किये जाने से नगर पालिका परिसर में अफरा तफरी मच गई, जिसके बाद जिलाध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं को कडी फटकार लगाते हुए अनुशासनहीनता करने पर भाकियू से बाहर का रास्ता दिखाने की चेतावनी दी।


भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष मास्टर जाहिद का एक हरिद्वार निवासी महिला के साथ अश्लील बाते करते ओडियो वायरल होने के बाद भाकियू हाईकमान ने बडी कार्यवाही की है। जनपद तथा आसपास क्षेत्र में लाखों लोगों ने उक्त ओडियों को सुना। जिससे शामली भाकियू की काफी किरकिरी हुई है। भाकियू हाईकमान ने पूर्व में विनोद निर्वाल तथा वर्तमान में जिलाध्यक्ष मास्टर जाहिद को यूनियन से निष्कासित कर दिया है। जनपद शामली की कमान अब मुजफ्फरनगर निवासी राजू अहलावत को देकर उनको 6 माह के लिए कार्यवाहक जिलाध्यक्ष नियुक्त किया है। जिसके बाद बुधवार को उन्होने यूनियन के समस्त पदाधिकारी तथा कार्यकर्ताओं की बैठक नगर पालिका सभागार में आयोजित की गई। जिसमें प्रदेश सचिव जावेद तोमर यूनियन में की जा रही अनुशासनहीता पर बात कर ही रहे थे कि अचानक राजेन्द्र कुडाना उठा और जावेद तोमर पर यूनियन के आन्दोलनों में भाग न लिये जाने का आरोप लगाते हुए बधेडा खडा कर दिया। जिसके बाद कुछ कार्यकर्ता राजेन्द्र कुडाना तथा कुछ कार्यकर्ता जावेद तोमर की साईड खडे हो गए और दोनों में जमकर कहासुनी हुई। मामला हाथापाई तक पहुंच गया, लेकिन नवनियुक्त जिलाध्यक्ष राजू ने मामले को संभाल लिया। उन्होने कहा कि जो भी यूनियन में अनुशासनहीता करेगा उसको यूनियन से बाहर का रास्ता दिखाया जायेगा। जिसके बाद बैठक की कार्यवाही आगे बढ सकी। इस अवसर पर बाबा सूरजमल, ओमपाल सिंह, कुलदीप पंवार, मुन्ना टिटौली, नदीम चौहान, टीनू जावला, दीपक शर्मा, फरीद थानाभवन, नजाकत टपराना, देशराज, आशोक, शोएब खान कैराना, नासिर प्रधान, धीरज लाठियान, ओमबीर पटवारी, समरपाल तोमर आदि मौजूद रहे।
भाकियू के नवनियुक्त कार्यवाहक जिलाध्यक्ष राजू अहलावत ने मीडिया से बीतचीत के दौरान बताया कि भाकियू का मकसद किसानों की लडाई को लडना है। भाकियू हमेशा से ही किसानों की आवाज को उठाते आई है। फिलहार सबसे बडा मुददा किसानों के बकाया गन्ना भुगतान है। दुर्भाग्य है कि प्रदेश का गन्ना मंत्री इसी जनपद का होने के बावजूद भी किसानों का भुगतान नही हो पा रही है। जिलाध्यक्ष मास्टर जाहिद की ओडियों वायरल होने के मामले में उन्होने कहा कि मास्टर जाहिद व विनोद निर्वाल का मामला उनका व्यक्तिगत मामला है। भाकियू का उक्त मामले से कोई लेनादेना नही है। भाकियू हाईकमान ने उक्त प्रकारण को गंभीरता से लेते हुए दोनों को निष्कासित कर एक जांच टीम बैठा दी है। उन्होने कहा कि जनपद शामली के कार्यकर्ताओं में अनुशासनहीता देखने को मिली है, जो भी यूनियन में रहकर अनुशासनहीता करेगा उसको बाहर का रास्ता दिखाने का काम किया जायेगा। शामली जनपद के भाकियू पदाधिकारी अपने निजी स्वार्थ के लिए अधिकारियों की परिक्रमा कर रहे है। जिससे किसानों की समस्याओं व बडे मुददों को अधिकारी नजर अंदाज कर रहे है। किसानों पर हो रहे अत्याचार को जल्द खत्म कर शामली जनपद में एक बडा आन्दोलन किया जायेगा।

Loading…