मुजफ्फरनगर में चल रही थी इलैक्ट्रानिक कांटों में घटतौली करने वाली चिप बनाने की फैक्ट्री, पुलिस ने लगाई सील, 2 गिरफ्तार

मुजफ्फरनगर। क्राइम ब्रांच की टीम ने अंसारी रोड स्थित एक दुकान पर छापा मारकर घटतौली के लिए इलेक्ट्रॉनिक कांटो में रिमोट चालित चिप लगाने के गोरखधंधे का भंडाफोड़ करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। बाद में पुलिस ने चिप तथा रिमोट बनाने वाली फैक्ट्री पर भी छापा मारा तथा उसे सील कर दिया। इस पूरे गोरख धंधे का मास्टरमाइंड पुलिस के शिकंजे में आने से पहले ही फरार हो गया।
आज दोपहर पुलिस लाइन स्थित सभाकक्ष में पत्रकारों से वार्ता करते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि जनपद में पिछले कुछ समय से अवैध रूप से इलेक्ट्रॉनिक कांटो में चिप लगाकर रिमोट के जरिए घटतौली की शिकायतें सामने आ रही थी, जिसके चलते क्राइम ब्रांच की टीम को ऐसी चिप तैयार करने वाले गिरोह का खुलासा करने के लिए निर्देशित किया गया था। आज दोपहर क्राइम ब्रांच की टीम तथा थाना सिविल लाइन पुलिस ने संयुक्त रूप से अंसारी रोड पर स्थित एटी इंटरप्राइजेज की दुकान पर छापा मारा। पुलिस ने इस दौरान वहां से दो अभियुक्तों गौरव पुत्र विजेंदर सिंह निवासी अमित बिहार तथा इनाम पुत्र नानू निवासी मिमलाना रोड को गिरफ्तार किया। पुलिस ने उनके कब्जे से एक चिप लगा धर्मकांटा तथा रिमोट बरामद किया। इसके बाद पुलिस ने उनकी निशानदेही पर विधिक माप विज्ञान वरिष्ठ निरीक्षक हरीश कुमार प्रजापति के साथ शेरपुर में चल रही अवैध फैक्ट्री को भी सील कर दिया। एसएसपी ने बताया कि यह लोग एक रिमोट संचालित चिप को इलेक्ट्रॉनिक कांटो में लगाते थे। रिमोट के जरिए कांटे पर कम वजन तोला जाता था जबकि ग्राहक को स्क्रीन पर पूरी माप नजर आती थी। पुलिस ने धर्म कांटा बनाने के लिए लोड सैल व 6 गाडर, चिप व रिमोट तथा एक धर्म कांटा मय चिप व रिमोट के बरामद किए है। इस पूरी कार्रवाई को थाना सिविल लाइन पुलिस, क्राइम ब्रांच तथा विधिक नाप तौल टीम द्वारा संयुक्त रूप से अंजाम दिया गया। इस दौरान इस पूरे गोरखधंधे का मास्टरमाइंड फरार होने में कामयाब हो गया। प्रेस वार्ता में पुलिस अधीक्षक नगर ओमवीर सिंह तथा क्षेत्राधिकारी नई मंडी योगेंद्र सिंह भी उपस्थित रहे।

Loading…