मुजफ्फरनगर का प्रेमी जोडा अमृतसर में लटका मिला फांसी पर

अमृतसर: महानगर के बस स्टैंड के नजदीक महासिंह गेट पक्की गली में स्थित सहज गैस्ट हाऊस में शनिवार की रात उस समय सनसनी फैल गई जब गैस्ट हाऊस के कमरे में प्रेमी और प्रेमिका के शव मिले। प्रेमी उत्तर प्रदेश के जिला मुजफ्फरनगर और युवती पहाड़गंज दिल्ली की रहने वाली है। प्रेमी जोड़ा 3 दिन से गैस्ट हाऊस में ठहरा हुआ था। दोनों की मौत का खुलासा उस समय हुआ जब गैस्ट हाऊस के मालिक की ओर से शाम को उनके कमरे का दरवाजा खटखटाया गया। अंदर से कोई जवाब नहीं आया तो पुलिस की मदद से जब दरवाजा तोड़ा तो शव पड़े हुए थे। गैस्ट हाऊस के मालिक ने पुलिस को बताया है 3 दिन पहले उनके पास प्रफुल्ल निवासी मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश सुषमा नाम की युवती के साथ आया। दोनों ने एक-दूसरे को पति पत्नी बताया और कमरा किराए पर लिया। उनसे कहा कि वह पंजाब के धार्मिक स्थानों के दर्शन करने के लिए आए हैं। शनिवार की रात दोनों ने श्री वैष्णो देवी जाना था। दोपहर से लेकर रात तक दोनों कमरे से बाहर नहीं आए। दोनों की वैष्णो देवी जाने के लिए टिकट बुकिंग थी। बस का समय हो रहा था। इसलिए वह दोनों को कमरे में बुलाने के लिए गए तो कमरा अंदर से बंद था। काफी आवाजें लगाने पर भी कोई जवाब नहीं आया। उन्होंने पुलिस को सूचना दी। थाना कोतवाली की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने कमरे का दरवाजा तोड़ा तो देखा बैड़ पर सुषमा का शव पड़ा हुआ था और उसके गले में मफलर था, जिससे उसका गला घोटा गया। प्रफुल्ल का शव पंखे के साथ लटक रहा था। डी.सी.पी. जगमोहन सिंह, ए.सी.पी. सैंट्रल नरेंद्र सिंह, एस.एच.ओ. कोतवाली सुखबीर सिंह और सी.आई.ए. स्टाफ की टीम मौके पर पहुंची। पुलिस की ओर से फॉरैंसिक टीम को भी मौके पर बुलाया गया। मौके के हालात से लगता है कि पहले युवती की गला दबाकर हत्या की गई और फिर प्रफुल्ल ने खुद पंखे के साथ फंदा लगाकर आत्महत्या की है। पुलिस ने दोनों शव कब्जे में ले लिए हैं। मृतकों के परिवारों को सूचित किया गया है। देर रात तक पुलिस द्वारा मामले की जांच जारी थी।