मेरठ में अम्बेडकर की मूर्ति तोडी, तनाव फैलाने का प्रयास

loading...

मेरठ। त्रिपुरा में भाजपा की जीत के बाद देश में कई जगह फैली हिंसा की आग उत्तर प्रदेश के मेरठ तक पहुंच चुकी है। यहां मवाना क्षेत्र के एक गांव में अंबेडकर की मूर्ति तोड़कर हिंसा फैलाने की कोशिश की गई। असामाजिक तत्वों द्वारा मूर्ति खंडित करने की सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। उधर, दलितों में भी इसको लेकर आक्रोश है।


बता दें कि मवाना के खुर्द गांव में देर रात कुछ असामाजिक तत्वों ने डॉ. भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा खंडित कर दी। आक्रोशित दलित समाज के लोगों ने बुधवार सुबह हंगामा कर दिया। इसके बाद एसडीएम अंकुर श्रीवास्तव, सीओ यू. एन. मिश्र और थाना प्रभारी ब्रजेश कुशवाहा भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस अधिकारियों ने किसी तरह लोगों को शांत कराया और अंबेडकर की नई मूर्ति लगवा दी।

loading...


वहीं हस्तिनापुर विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक और बसपा नेता योगेश वर्मा ने बताया कि इस मामले में जानकारी मिलने के बाद एसडीएम से संपर्क करने की कोशिश की गई। लेकिन उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया। फिलहाल गांव में पुलिस तैनात कर दी गई है। सीओ का कहना है कि मामले में जांच की जा रही है। जैसे ही आरोपी पकड़ में आएंगे तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।


बताया गया कि करीब छह महीने पहले भी इसी मूर्ति को तोड़कर हिंसा फैलाने की कोशिश की गई थी। हालांकि उस दौरान भी पुलिस ने लोगों को समझाकर मामला शांत करा दिया था।

loading...

Loading…