MP: विधान सभा भवन से क्यों डर रहे हैं विधायक? जानिए पूरा मामला

भोपाल। मध्य प्रदेश की दो महिला विधायकों के साथ एक ही दिन दो अलग-अलग हादसों ने विधान सभा भवन के वास्तु को लेकर फिर सवाल खड़े कर दिए हैं. पहले मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ के कंधे में हेयर लाइन फ्रैक्चर हुआ और उसके कुछ घंटे बाद विधानसभा की डिप्टी स्पीकर हिना कांवरे की फॉलोअप गाड़ी का एक्सीडेंट. ये हादसे नेताओं के माथे पर चिंता की लकीरें खींच रहे हैं. इन हादसों के बाद कांग्रेस ने विधानसभा में वास्तु दोष दूर करने की मांग की है. वास्तुदोष को लेकर बीजेपी ने भी कांग्रेस के सुर में सुर मिलाया है.
पहले चिकित्सा शिक्षा मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ और फिर विधानसभा डिप्टी स्पीकर हिना कांवरे. इनसे विधायकों के मन में आशंका खड़ी हो रही है कि कहीं विधानसभा भवन में वास्तु दोष तो नहीं है. इन आशंकाओं के बीच कांग्रेस और बीजेपी दोनों दलों के नेताओं ने भवन के वास्तु दोष दूर करने की मांग की है. ऐसा पहली बार नहीं है कि एमपी विधानसभा भवन में वास्तु को लेकर सवाल खड़े हुए हों. इससे पहले भी कई बार विधायकों की ओर से वास्तुदोष को लेकर शंकाएं जाहिर की गईं और उन्हें दूर करने के लिए विधानसभा में पूजा पाठ कराया गया. अतीत के आईने में देखें तो…
-एमपी विधानसभा के नए भवन का उद्घाटन 1996 में हुआ था
-दो दशक में पूर्व नेता प्रतिपक्ष सत्यदेव कटारे सहित करीब 29 विधायकों का निधन हो चुका है
-2010 में कांग्रेस की वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश विधानसभा की नेता प्रतिपक्ष रहीं जमुना देवी का निधन हुआ.
-पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्रीनिवास तिवारी और ईश्वरदास रोहाणी वास्तु दोष दूर करने के लिए पूजा करवा चुके हैं.
ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक मध्य प्रदेश विधानसभा भवन में तीन मुख्य वास्तु दोष हैं-
1. विधानसभा भवन गोलाकार है, इसके चारों कोने कटे हुए हैं जबकि नाभि स्थल ब्रह्म स्थान सबसे नीचा है
2. दक्षिण-पश्चिम दिशा के द्वार से आने वाली सड़क में भी वास्तु दोष है
3. भवन के पास स्थित छोटा तालाब भी वास्तु दोष का कारण है
अतीत की घटनाएं और मौजूदा सदस्यों के साथ हो रहे हादसों का क्या वाकई में वास्तुदोष के साथ कोई कनेक्शन है या फिर ये महज अंधविश्वास है. हक़ीक़त जो भी हो फिलहाल नेताओं की ओर से मांग यही उठ रही है कि अगर हादसों के पीछे वजह वास्तु दोष है तो फिर किसी बड़ी दुर्घटना से पहले इसे दूर किया जाए.

Loading…