• लोगों की परेशानी देख, बैंक में छोटे नोट जमा कर गया किसान

    item-thumbnail  सहारनपुर। गांव पिंजौरा निवासी शिवकुमार पाठक बहुत छोटी जोत के किसान हैं। हालांकि घर की अधिकांश जरूरतें उससे पूरी हो जाती हैं। उनका महीने का बाकी खर्च दो हजार रुपये में चल जाता है। इन दिनों जहां छोटे नोटों के लिए मारामारी मची हुई है। सामान्य खर्चों से निपटने के लिए छोटे नोट प्राप्त करने की चाहत में लोग घंटों बैंक के सामने कतार में खड़े हो रहे हैं, वहीं शिवकुमार 50 व 100 रुपये नोट लेकर खाते में जमा कराने रविवार को दिल्ली रोड स्थित पंजाब नेशनल बैंक की आवास विकास शाखा में पहुंच गए। यह देख न केवल बैंक स्टाफ वरन मैनेजर क्रांति कुमार अपनी कुर्सी से खड़े हो गए। उन्होंने शिव कुमार पाठक को कुर्सी पर बैठाया। अपने कक्ष में ही शिवकुमार का फार्म भरवाया और पैसे जमा करा दिए। शिवकुमार ने मैनेजर को बताया कि उन्होंने टीवी में खबर देखी कि बैंकों में छोटे नोटों की कमी पड़ रही है। घर में बच्चों और पत्नी की कुल बचत करीब छह हजार रुपये थी। इसमें सभी 100 और 50 के नोट थे। इतनी रकम से परिवार का तीन महीने का खर्च चल जाएगा। हमने आधी रकम अपने पास रख ली। बाकी बचे तीन हजार रुपये किसी जरूरतमंद तक पहुंच जाएं, इसी सोच के साथ बैंक में जमा करने आ गए। मैनेजर का कहना था कि यदि अन्य लोग भी ऐसी ही भावना का प्रदर्शन करते हुए सब्र से काम लें तो समस्या ही खत्म हो जाएगी|



    Last Updated On: 2016-11-14 10:48:51
loading...
loading...