• दूध, घी और सूखे मेवों के बराबर है मुट्ठी भर मूंगफली

    item-thumbnail  नई दिल्ली। मूंगफली एक ऐसा आहार है जो पोषक तत्वों से भरपूर है और आम आदमी इसे आसानी से खरीदकर खा सकता है। हेल्थ एक्सपर्ट की मानें तो दिल की बीमारियों खासकर दिल के दौरे और स्ट्रोक में यह फायदेमंद है। यही नहीं यह ब्लड शुगर को कंट्रोल, कोलेस्ट्रॉल लेवल कम करे, पथरी में रोकथाम, दांतों और हड्डियों के लिए फायदेमंद है बल्कि पेट संबंधी बीमारियों और मधुमेह के रोगियों के लिए भी फायदेमंद है।
    1.सर्दियों में अगर तव्चा फट गई हो तो मूंगफली के तेल में दूध और गुलाब जल मिलाएं। इसके बाद इससे मालिश करने से तव्चा मुलायम हो जाती है।
    2.मूंगफली मोनोसैचुरेटेड फैट होती है यही वजह है कि इसे खाने से कोलेस्टॉल लेवल कम होता है। यही नहीं ये हमारी धमनियों के लिए फायदेमंद होती है।
    3.दांतों और हड्डियों और दिल की बीमारियों में मूंगफली फायदेमंद कही जाती है। बच्चे को दूध पिलाने वाली महिलाओं को मूंगफली खानी चाहिए इससे दूध की मात्रा बढ़ती है।
    4.पेट संबंधी बीमारियों के इलाज में भी मूंगफली को लाभदायक माना जाता है।
    5.मूंगफली में मैंग्नीज तत्व पाया जाता है इससे ब्लड शुगर पर कंट्रोल होती है।

    मूंगफली खाने से पहले रखें इन इन बातों का ध्यान

    1.इस बात का ध्यान रखें कि नमक लगी मूंगफली ज्यादा न खाएं। इससे शरीर में ज्यादा कैलोरी पहुंच जाएगी।
    2.अगर एसिडिटी की समस्या है तो मूंगफली को चबा-चबाकर खाएं
    3. अस्थमा और पीलिया की बीमारी और गैस की समस्या से पीड़ित लोगों को मूंगफली का सेवन नहीं करना चाहिए।
    4.मूंगफली की सीमित मात्रा का इस्तेमाल करना चाहिए।

    इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य व सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।



    Last Updated On: 02-12-16 17:06:49
loading...
loading...